देविंदर सिंह: चरमपंथियों के साथ पकड़े गए डीएसपी से पूछताछ

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने डीएसपी देविंदर सिंह को दो चरमपंथियों के साथ श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर गिरफ़्तार किया है. पुलिस के मुताबिक़ उन्हें सूचना मिली कि दोनों चरमपंथी शोपियां से भाग रहे हैं, जिसके बाद ऑपरेशन शुरू किया गया था.

बीते साल स्वतंत्रता दिवस के मौक़े पर भारत के राष्ट्रपति से सम्मान पाने वाले डीएसपी देविंदर सिंह श्रीनगर एयरपोर्ट पर तैनात थे.
जम्मू-कश्मीर के आईजी पुलिस विजय कुमार ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, ''कल शोपियां में एक ऑपरेशन के दौरान एक डीएसपी को हिज़बुल मुजाहिदीन के दो चरमपंथियों के साथ गिरफ़्तार किया गया है. तीनों एक ही गाड़ी में थे. उनसे पूछताछ की जा रही है.''
साल 2013 में अफ़ज़ल गुरु ने आरोप लगाया था कि देविंदर सिंह ने उसकी मदद से कई चरमपंथियों को कश्मीर घाटी से बाहर करवाया था. अफ़ज़ल गुरू को साल 2001 में संसद पर हुए हमले का दोषी ठहराया गया था और फांसी दी गई.
पुलिस के मुताबिक़ उन्हें सूचना मिली और इस पर तुरंत एक्शन लिया गया. दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में मीर बाज़ार के पास पुलिस ने उनकी गाड़ी को रोका.
आईजी विजय कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा, जिस हालत में देविंदर सिंह को पकड़ा गया है वो संदेह पैदा करता है. हम जांच कर रहे हैं वो दो चरपंथियों को गाड़ी में बैठाकर जा रहे थे, ये संगीन अपराध है.
उन्होंने इस बात से भी इनकार किया कि अफ़ज़ल गुरु से देविंदर सिंह का कोई कनेक्शन था. आईजी विजय कुमार ने कहा कि इस संबंध में पुलिस के पास कोई रिकॉर्ड नहीं हैं.
उन्होंने यह भी कहा कि देविंदर सिंह से पूछताछ की जा रही है. पुलिस के अलावा दूसरी एजेंसियां भी इसमें शामिल हैं.

Popular posts from this blog

येदियुरप्पा ने मानी हार, विश्वास मत परीक्षण से पहले ही दिया इस्तीफा

सरकार में पैराशूट बाबू की एंट्री की शुरुआत, बिना #UPSC पास किए भी बन सकेंगे अफसर

काले हिरण के शिकार के मामले में सलमान ख़ान दोषी क़रार, मिली 5 साल की सज़ा