विदेश यात्रा पर कहां जाता है गांधी परिवार, देनी होगी जानकारी! SPG सुरक्षा के बदले नियम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और उनकी बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है। केंद्र सरकार की तरफ से समय-समय पर सुरक्षा और खतरे की स्थिति के आधार पर सिक्योरिटी कवर की समीक्षा की जाती है।

केंद्र सरकार एसपीजी सुरक्षा से जुड़े नियमों में बदलाव करने जा रही है। इंडिया टुडे ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि नए नियमों के मुताबिक एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति के लिए विदेश दौरे के समय भी अपने साथ सुरक्षा साथ रखना अनिवार्य होगा।
सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि यदि एसपीजी सुरक्षा हासिल करने वाला व्यक्ति ऐसा नहीं करता है तो केंद्र सरकार सुरक्षा कारणों के मद्देनजर उसकी विदेश यात्रा पर रोक लगा सकती है। खबर के अनुसार नियमों में बदलाव ऐसे समय किया गया है जब राहुल गांधी के कंबोडिया दौरे को लेकर सवाल उठ रहे हैं।
संडे गार्डियन की रिपोर्ट में बताया गया कि नए नियमों के अनुसार गांधी परिवार को अपनी विदेश यात्रा से जुड़ी पूरी जानकारी सरकार को देनी होगी। इतना ही नहीं इसके तहत पहले के भी किए गए विदेश दौरों की जानकारी सरकार को देनी होगी। मालूम हो कि अभी तक गांधी परिवार अपनी विदेश यात्रा के दौरान पहली लोकेशन तक एसपीजी सुरक्षा के कवर रहते थे।
इसके बाद निजता का हवाला देते हुए एसपीजी सुरक्षा कवर को वापस भेज दिया जाता था। इसके बाद गांधी अपनी पसंद की स्थान की तरफ रवाना हो जाते थे। इससे उनकी सुरक्षा को कथित रूप से खतरा हो सकता है। मालूम हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है।
केंद्र सरकार की तरफ से समय-समय पर सुरक्षा और खतरे की स्थिति के आधार पर सिक्योरिटी कवर की समीक्षा की जाती है। इस समीक्षा के निर्णय के आधार पर ही व्यक्ति विशेष को सुरक्षा उपलब्ध कराए जाने को लेकर निर्णय लिया जाता है। मालूम हो कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद एसपीजी का गठन किया गया था।
इससे पहले मोदी सरकार ने इस साल अगस्त में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की एसपीजी सुरक्षा को वापस ले लिया था। इसके बाद मनमोहन सिंह को जेड प्लस सुरक्षा उपलब्ध कराई गई थी।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!