जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा ज़िले में लेथपोरा के पास श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर चरमपंथियों ने आईडी धमाका कर सीआरपीएफ़ के काफिले को निशाना बनाया. इस हमले में 42 जवान मारे गए हैं.
पुलिस ने बीबीसी से 42 जवानों के मारे जाने की पुष्टि की है. सीआरपीफ़ के जवानों की बस इसी रास्ते से जा रही थी तभी चरमपंथियों ने बस को निशाने पर लेकर धमाका किया. इस बस में 40 से ज़्यादा जवान सवार थे.
300 किलोमीटर का यह राजमार्ग रणनीतिक रूप से काफ़ी अहम है और हमेशा सुरक्षाबलों की चौकसी रहती है. ज़ख़्मी जवानों को श्रीनगर के सेना हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है.
इस राजमार्ग पर गाड़ियों की आवाजाही रोक दी गई है और पूरे इलाक़ों में हमलावरों को खोजने का काम चल रहा है. दो बसों में जवान सवार थे और इनकी सुरक्षा में पुलिस की गाड़ियां आगे-पीछे चल रही थीं.
जैश ए मोहम्मद ने ली ज़िम्मेदारी
प्रतिबंधित चरमपंथी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने हमला करने का दावा किया है.
जैश-ए-मोहम्मद के प्रवक्ता मोहम्मद हसन ने एक बयान जारी कर कहा है कि आदिल अहमद उर्फ़ वक़ास कमांडो ने इस हमले को अंजाम दिया है. वक़ास कमांडो को पुलवामा ज़िले का नागरिक बताया जा रहा है.
यह हमला लोकसभा चुनाव से पहले सुरक्षाबलों के लिए झटके के रूप में देखा जा रहा है.
गृह मंत्रालय के अनुसार 2018 में कम से कम 250 चरमपंथी, 84 सुरक्षाकर्मी और 150 आम लोग मारे गए. इस साल पिछले 6 हफ़्तों में 20 चरमपंथी मारे गए हैं.

Popular posts from this blog

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'