INDvsAUS: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराया, सिरीज़ जीती

मेलबर्न में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैच की वनडे सिरीज़ के आख़िरी मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हरा दिया. इसके साथ ही भारत ने यह सिरीज़ 2-1 से अपने नाम कर ली.
भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में कोई द्विपक्षीय वनडे सिरीज़ जीती है.
भारत को जीत के लिए 231 रनों का लक्ष्य मिला था. जिसे भारतीय टीम ने अंतिम ओवर में पूरा किया.
भारत की ओर से महेंद्र सिंह धोनी ने सर्वाधिक नाबाद 87 रन बनाए. सिरीज़ के तीनों मैचों में धोनी अर्धशतक जमाए.
लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत कुछ ख़ास नहीं हो सकी थी. अच्छी फॉर्म में चल रहे रोहित शर्मा 9 रन बनाकर पीटर सिडल का पहला शिकार बने.
उसके बाद खेलने उतरे कप्तान विराट कोहली ने शिखर धवन के साथ मिलकर टीम के स्कोर को 50 के पार पहुंचाया. धवन 23 रन बनाकर स्टोयनिस की गेंद पर आउट हुए.
सिरीज़ के अंतिम मैच धोनी चौथे नंबर पर खेलने उतरे. उन्होंने एक छोर संभाले रखा और विराट के साथ मिलकर टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया.
कोहली अर्धशतक बनाने से चूक गए और 46 रन बनाकर रिचर्डसन की गेंद पर आउट हुए.
उनके बाद खेलने उतरे केदार जाधव ने भी अच्छा खेल दिखाया और धोनी के साथ मैच को लक्ष्य तक पहुंचाया. जाधव ने नाबाद 61 रन बनाए.

ऑस्ट्रेलिया की पारी

ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 230 रनों पर ढेर हो गई.
मैच की शुरुआत में बारिश के चलते खेल कुछ देर के लिए बाधित हुआ. भारत ने टॉस जीतकर गेंदबाज़ी का फ़ैसला किया था.
इस सिरीज़ में पहला मैच खेल रहे युजवेंद्र चहल ने शानदार गेंदबाज़ी करते हुए छह विकेट झटके.
भारतीय गेंदबाज़ों ने हालात का फ़ायदा उठाया और ऑस्ट्रेलिया को शुरुआती झटके दिए. भुवनेश्वर कुमार ने ऑस्ट्रेलिया के दोनों ओपनरों को पवेलियन की राह दिखाई.
27 रन पर दो विकेट गिरने के बाद उस्मान ख़्वाजा और शॉन मार्श ने पारी को संभाला. दोनों ने मिलकर ऑस्ट्रेलियाई पारी को 100 के आंकड़े तक पहुंचाया.

चहल का जादू

युजवेंद्र चहल ने ख़्वाजा और मार्श की खतरनाक होती साझेदारी को तोड़ा. चहल ने मार्श को 39 के निजी स्कोर पर धोनी के हाथों स्टम्प आउट किया.
चहल यहीं नहीं रुके और उन्होंने इसी ओवर की चौथी गेंद पर ख़्वाजा को भी आउट किया.
लगातार दो झटके लगने के बाद ऑस्ट्रेलियाई पारी लड़खड़ाने लगी. चहल ने स्टोइनिस का विकेट भी निकाल कर भारत की स्थिति कुछ और मज़बूत कर दी.
इसी बीच पीटर हैंड्सकॉम्ब ने एक छोर संभाल लिया. उन्होंने शानदार अर्धशतक जमाया. हैंड्सकॉम्ब ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ मिलकर टीम के स्कोर को 160 तक पहुंचाया.
मैक्सवेल को मोहम्मद शमी ने 26 रन के निजी स्कोर पर आउट किया. चहल ने हैंड्सकॉम्ब को 58 रन के स्कोर पर आउट कर अपनी चौथी सफलता हासिल की.
इसके बाद उन्होंने रिचर्डसन और जैम्पा का विकेट लेकर अपने कुल विकटों की संख्या छह कर दी. चहल मेलबर्न के मैदान में भारत की ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज भी बन गए.
मेलबर्न वनडे के लिए टीम इंडिया में तीन बदलाव किए गए. मोहम्मद सिराज, कुलदीप यादव और अंबाती रायुडू की जगह इस मैच में विजय शंकर, युजवेंद्र चहल और केदार जाधव को शामिल किया गया है.
वहीं , ऑस्ट्रेलिया की ओर से मैदान में कप्‍तान एरॉन फिंच, एलेक्‍स कैरी, उस्‍मान ख्‍वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकोंब, मार्कस स्‍टोइनिस, ग्‍लेन मैक्‍सवेल, जे. रिचर्डसन, पीटर सिडल, एडम जाम्‍पा और बिली स्‍टेनलेक शामिल हैं.
इससे पहले भारत ने एडिलेड में खेले गए दूसरे वनडे मैच में मेज़बान ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हराकर तीन मैचों की सिरीज़ में 1-1 की बराबरी हासिल की है. ऐसे में ये मैच सिरीज़ के लिए निर्णायक साबित होगा.
एडिलेड में कप्तान विराट कोहली के बल्ले से निकले 104 रनों ने जीत में अहम भूमिका निभाई. यह एक दिवसीय क्रिकेट में उनका 39वां शतक था. पहले मैच में उनके बल्ले से केवल तीन रन निकले थे.
इससे पहले सिरीज़ के पहले वनडे मुक़ाबले में रोहित शर्मा के शतक के बाद भी टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा था.

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'