मुंबई: कमला मिल कंपाउंड में भीषण आग, 14 लोगों की मौत

मुंबई के कमला मिल कंपाउंड स्थित 1-अबव रेस्तरां,
लंडन टैक्सी बार और मोजो पब में गुरुवार देर रात
भीषण आग लग जाने से 14 लोगों की मौत हो गई और
16 लोग घायल हो गए। मरने वालों में 12 महिलाएं और
3 पुरुष हैं। घायलों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती
कराया गया है जिनमें दो की हालत गंभीर है। किंग
एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल (KEM) ने 14 लोगों की
मौत की पुष्टि की है। पुलिस ने 1-अबव रेस्तरां के
खिलाफ आईपीसी की धारा 304 के तहत केस दर्ज कर
लिया है। आग लगने की वजह का पता फिलहाल नहीं
चल पाया है। आग पर काबू पा लिया गया है और
कूलिंग का काम चल रहा है।
आग सबसे पहले 1-अबव रेस्तरां में लगी। इसका बांस और
प्लास्टिक से बना शेड जलने लगा। यह आग फिर दूसरे
बिल्डिंग में मौजूद दो बारों-मोजो और लंडन टैक्सी
में फैल गई। रेस्तरां में मौजूद लोग वॉशरूम में छुपकर खुद
को बचाने की कोशिश करने लगे और उसमें फंस गए। उन्हें
जाने का रास्ता नहीं मिला। अधिकांश लोग वॉशरूम
एरिया में मारे गए हैं। जो लोग ऊपरी मंजिल में फंस गए
थे वे किसी तरह साथ की बिल्डिंग में जाने में
कामयाब रहे जहां से उन्हें फायर ब्रिगेड ने स्पेशल लैडर
के सहारे बचाया।
पुलिस अधिकारी ने बताया, 'मृतकों में अधिकांश
महिलाएं हैं जो टेरेस पर स्थित रेस्तरां में एक पार्टी में
शामिल होने आई थीं।' घटना की जानकारी मिलते
ही दमकल की 8 गाड़ियां मौके पर भेजी गईं। KEM
हॉस्पिटल के डीन ने बताया कि घायल अवस्था में 21
लोगों को यहां लाया गया था। उधर, ब्रीच कैंडी
हॉस्पिटल ने 10 से 15 घायलों के लाए जाने की पुष्टि
की है। एक अधिकारी ने बताया, 'कुछ लोग गंभीर रूप
से घायल हो गए, जबकि कुछ को सांस लेने में दिक्कत
हो रही है।'
बीएमसी के आयुक्त अजय मेहता और मनपा के
अतिरिक्त आयुक्त आई.ए. कुंदन ने भी घटनास्थल का
दौरा किया। इधर, दमकल कार्यालय के डेप्युटी चीफ
के.वी.हिवराले ने कहा है कि लंडन टैक्सी बार हादसे
की जांच कराई जाएगी।
बीएमसी की आपदा प्रबंधन इकाई ने बताया, 'मौके पर
दमकल की आठ गाड़ियां, 3 जेटी और पांच टैंकर तुरंत
भेजे गए।' फायर ब्रिगेड के कर्मचारी आसपास स्थित
ऑफिस इमारतों को भी बचाने में जुट गए। आग लगते
ही कर्मचारी बाहर की तरफ भागे, वे इतनी दहशत में थे
कि घटना के बारे में कुछ बता नहीं पा रहे थे। फायर
ब्रिगेड को रात 12.30 बजे आग लगने की जानकारी
मिली। आग बेहद भीषण था कि ऊपरी मंजिल तक
पहुंचने के लिए दमकलकर्मियों को स्पेशल सीढ़ियों का
इस्तेमाल करना पड़ा।
हाल में खुला टेरेस बार 'लंडन टैक्सी' मुंबई युवाओं में बेहद
लोकप्रिय है। दूसरी मंजिल की खुली छत को कुछ
दिनों पहले ही ढंका गया था। निर्माण कार्य के बाद
काफी बेकार लकड़ी भी पड़ी हुई थी और संभवतः
आग इसलिए बढ़ गई। शुक्रवार और शनिवार की रात इस
पब में प्रवेश के लिए लंबी लाइन लगती है।


Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'