दो ह‍िंदू युवकों पर दंगा भड़काने की साज‍िश में गाय काटने का आरोप, ग‍िरफ्तार

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में दो हिंदू युवकों को ‘साजिश के तहत’ गाय काटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इन लोगों का इरादा मुहर्रम पर गांव में सांप्रदायिक हिंसा फैलाने का था। पुलिस के मुताबिक राम सेवक तिवारी और मंगल दीक्षित नाम के दो युवक भातपुर्वा गांव में गाय काट रहे थे, तभी उन्हें पकड़ लिया गया। द वायर.कॉम ने अपनी रिपोर्ट में पुलिस के हवाले से लिखा है कि गांव में मुहर्रम को ध्यान में रखते हुए इस घटना को अंजाम दिया गया था। पुलिस का कहना है कि इन लोगों की योजना थी कि गाय काटने की खबर फैलाकर गांव में सांप्रदायिक दंगे फैलाए जाएं।
पुलिस ने दोनों युवकों को सांप्रदायिक नफरत फैलाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। गोंडा के सीओ केपी सिंह के हवाले से रिपोर्ट में लिखा गया है, ‘जब ये लोग गाय काट रहे थे, तभी स्थानीय लोगों ने उन्हें देख लिया और पुलिस को इसकी जानकारी दी। गांव वालों का आरोप है कि दोनों ने गांव में ही रहने वाले गणेश प्रसाद दीक्षित की गाय चुराई और फिर उसे पास के ही खेत में काट रहे थे। दोनों के खिलाफ धारा 295ए, 153ए, 505बी और 3/8 गौवध एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। हम लोग दोनों से पूछताछ कर रहे हैं और यह जानने की कोशिश कर रहे हैं गाय काटने के पीछे क्या साजिश थी। इस घटना के पीछे उनके कुछ गलत इरादे रहे होंगे।’
बताया जा रहा है कि जब वह गाय को काट रहे थे तो उन्हें गांव वालों ने देख लिया, फिर वहां से दोनों भाग गए। गांव वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने अगले दिन दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक गाय गायब होने और फिर उसकी हत्या की खबर मिलने के बाद गांव में सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया था। पुलिस को स्थिति नियंत्रित करने के लिए भारी पुलिस बल और पीएसी तैनात करनी पड़ी। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तारी के वक्त दोनों आरोपी नशे की हालत में थे। उनके खिलाफ पहले भी कई मामले चल रहे हैं और जेल भी जा चुके हैं।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'