स्वीडन की प्राचीन कब्र से निकले कपड़े पर ‘अल्लाह’ और ‘अली’ लिखा मिला

स्वीडन में नौवीं शताब्दी में वाइकिंग युग के एक मक़बरे से ऐसे वस्त्र मिले हैं, जिन पर 'अल्लाह' और 'अली' के नाम नक़्श हैं

स्वीडन में वैज्ञानिकों को कब्रिस्तान से 'वाइकिंग युग' के कुछ कपड़े मिले हैं जिनपर अरबी भाषा की कूफ़ी लिपि में 'अल्लाह' लिखा हुआ है.
ये कफ़न के कपड़े हैं, उन पर बनी कढ़ाई में अल्लाह शब्द देखने को मिला है.
इससे यह सवाल खड़ा हो गया है कि क्या उस दौर में यूरोप के स्कैनडिनेवियाई इलाक़े के लोग मुसलमान थे?
स्कैनडिनेविया उत्तरी यूरोप के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक इलाके को कहा जाता है, इसमें डेनमार्क, नॉर्वे और स्वीडन की सल्तनत शामिल थी.
वाइकिंग युग 8वीं सदी के पूर्वार्ध से 11वीं सदी के मध्य के समय को कहा जाता है. वाइकिंग्स समुद्री यौद्धा थे जिनकी लंबे समय तक उत्तरी यूरोप के राजाओं में दहशत कायम थी.

कपड़े पर अल्लाह और अली

वैज्ञानिकों ने जिस कफ़न की खोज की है वह रेशम और चांदी से बना है, उस कपड़े पर अरबी भाषा में 'अल्लाह' और 'अली' शब्द लिखे गए हैं.
ओपसाला यूनिवर्सिटी की मानव विज्ञानी एनिका लॉर्सन ने 19वीं और 20वीं शताब्दी में स्वीडन के कुछ इलाकों में खुदाई के दौरान मिले कफ़न की जब दोबारा जांच की तो उन्हें ये शब्द मिले.
लॉर्सन कहती हैं कि यह डिज़ाइन 1.5 सेंटीमीटर का है, इससे पहले उन्हें स्कैनडिनेविया इलाके से जो भी चीजें मिली थी, यह उनसे मेल नहीं खाता है.
वे कहती हैं, ''शुरुआत में जब मैंने इस डिज़ाइन को देखा तो मुझे कुछ समझ नहीं आया, लेकिन फिर मुझे याद आया कि इसी तरह के डिज़ाइन मैंने स्पेन और मोरक्को में देखे थे.''

सुलझ गई गुत्थी

लॉर्सन को अहसास हुआ कि यह कोई डिज़ाइन नहीं है, बल्कि यह तो अरबी लिपि में कुछ लिखा हुआ है. लॉर्सन ने ईरानी साथी की मदद से उस कपड़े पर लिखा पहला अक्षर 'अली' तो पहचान लिया.
लेकिन वे दूसरे अक्षर को नहीं पहचान पा रही थीं. फिर उन्होंने उन शब्दों को बड़ा किया और नज़दीक देखने पर उन्हें मालूम चला कि यह 'अल्लाह' लिखा हुआ है.
इस खोज के बाद यह सवाल उठने लगा है कि क्या इन कब्रिस्तानों में मुसलमानों को भी दफनाया गया था.

वाइकिंग और इस्लाम का संबंध

इतिहास में ऐसे कुछ सबूत मिले हैं जिनसे यह कहा जा सकता है कि वाइकिंग और मुसलमानों का आपस में संबंध रहा होगा. उत्तरी गोलार्ध में कुछ इस्लामिक सिक्के पाए गए थे.
दो साल पहले कुछ शोधार्थियों को स्वीडन के बर्का इलाके से एक महिला की कब्र के पास चांदी की एक अंगूठी मिली थी जिस पर अरबी में 'अल्लाह के लिए' लिखा हुआ था.
लेकिन पहली बार स्कैनडिनेविया इलाके से मिले किसी कपड़े में अली शब्द लिखा हुआ मिला है.
लॉर्सन वाइकिंग्स की कुछ और चीजों का भी परीक्षण कर रही हैं. वे कहती हैं, ''मुझे उम्मीद है कि शायद मुझे उस समय से जुड़ी बाकी चीजों में भी इस्लाम की निशानियां मिलेंगी.''

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'