38 दिन बाद पुलिस की गिरफ्त में आई हनीप्रीत, पूछताछ शुरू

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की सबसे बड़ी राजदार हनीप्रीत इंसां आखिरकार हरियाणा पुलिस के शिकंजे में आ गई हैं। पंजाब के जीरकपुर में पटियाला रोड से हनीप्रीत को दोपहर तीन बजे गिरफ्तार किया गया। हालांकि गिरफ्तारी का श्रेय लेने को लेकर हरियाणा और पंजाब पुलिस के अपने-अपने दावे हैं। पंजाब पुलिस हनीप्रीत को गिरफ्तार करने की बात कह रही है, तो हरियाणा पुलिस का कहना है कि पंजाब पुलिस ने सिर्फ सहयोग किया, गिरफ्तारी हरियाणा पुलिस की SIT के इंचार्ज ने की। पंचकूला के पुलिस कमिश्नर एएस चावला ने बताया कि बुधवार को हनीप्रीत को कोर्ट में पेश किया जाएगा।
कमिश्नर के मुताबिक, हनीप्रीत से पूछताछ शुरू कर दी गई है। हनीप्रीत के साथ एक और महिला को भी गिरफ्तार किया गया है। हालांकि यह महिला कौन है, इस बारे में कोई जानकारी पुलिस की ओर से नहीं दी गई है। इसके पहले मंगलवार सुबह न्यूज चैनलों पर हनीप्रीत के दिखने के बाद उसके सरेंडर करने की बात कही जा रही थी। हालांकि पुलिस का दावा है कि हनीप्रीत ने सरेंडर नहीं किया है, उसे गिरफ्तार किया गया है। इस बीच बीजेपी ने आरोप लगाया है कि पंजाब सरकार इस मामले में राजनीति कर रही है। बीजेपी प्रवक्ता रमन मलिक ने आरोप लगाया कि पंजाब सरकार हनीप्रीत को छिपा रही थी।
38 दिनों से फरार चल रहीं हनीप्रीत मंगलवार को अचानक मीडिया चैनलों को इंटरव्यू देती दिखी थीं। उन्होंने मीडिया से बातचीत में खुद और 'पापा' गुरमीत राम रहीम को निर्दोष बताया। हनीप्रीत ने कहा कि 'पापा' और उनका रिश्ता बेहद पवित्र है। न्यूज चैनल्स को दिए इंटरव्यू में इतने दिनों तक गायब रहने के सवाल पर हनीप्रीत ने कहा कि उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा था। 
उन्होंने कहा, 'मैं हरियाणा से किसी तरह दिल्ली गई। अब हरियाणा-पंजाब कोर्ट में जाऊंगी।' बता दें, पंचकूला में हिंसा भड़काने के आरोप में हनीप्रीत के खिलाफ सेक्टर-5 थाने में केस दर्ज है। हनीप्रीत पर आरोप है कि उसने साध्वियों से रेप के दोषी राम रहीम को पुलिस कस्टडी से छुड़ाने की साजिश रची थी।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'