हरियाणा हिंसा पर कोर्ट का मोदी पर निशाना- वह देश के पीएम हैं, बीजेपी के नहीं

राम रहीम पर सुनवाई के बाद हुई हिंसा पर हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार को भी फटकार लगाई।
इस फटकार में पीएम नरेंद्र मोदी का भी नाम आ गया। दरअसल, कोर्ट में केंद्र सरकार के वकील ने कहा था कि शुक्रवार (25 अगस्त) को हुई हिंसा राज्य का मामला था। इसपर हाई कोर्ट के जज ने कहा कि मोदी बीजेपी के नहीं देश के प्रधानमंत्री हैं और उनकी भी कुछ जिम्मेदारी बनती है। जज ने आगे पूछा कि क्या हरियाणा भारत का हिस्सा नहीं है? इतना ही नहीं हाई कोर्ट ने खट्टर सरकार को भी डांट लगाई। हाई कोर्ट ने कहा कि खट्टर सरकार ने वोटों की राजनीति के लिए राज्य को जलने दिया।
हरियाणा की सीबीआई कोर्ट ने बाबा राम रहीम पर 25 अगस्त को एक फैसला दिया था। उस फैसले में उनको एक 15 साल पुराने बलात्कार के केस में दोषी पाया गया। फैसला आने के बाद राम रहीम के समर्थकों ने काफी जगहों पर हिंसा की। जिसमें 30 से ज्यादा लोगों की जान चली गई थी। हिंसा के बाद हर कोई राम रहीम पर उंगली खड़ी कर रहा था।
इससे पहले राम रहीम के समर्थकों ने हरियाणा, पंचकुला में काफी हिंसा की। कई मीडिया वालों को भी पीटा गया उनकी गाड़ियों में आग लगा दी गई। पुलिस को भी कई जगहों से उस भीड़ ने पीछे धकेल दिया था। इसके अलावा दिल्ली और यूपी के लोनी में भी बस और ट्रेन जलाने के मामले सामने आए थे। लेकिन साफ नहीं था कि यह किसका काम है।
राम रहीम सिरसा से हाईकोर्ट तक 800 गाड़ियों का काफिला लेकर पहुंचे थे। उनके समर्थक सड़कों पर लाठी लेकर खड़े थे।



Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'