लखनऊ के केजीएमयू हॉस्पिटल में भयानक आग, छह मरीजों की मौत, काबू पाने के सभी उपकरण थे खराब


उत्तर प्रदेश के लखनऊ में किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के ट्रॉमा सेंटर में शनिवार (15 जुलाई) को आग लग गई। यह हादसा रात 10 बजे के करीब हुआ। सभी मरीजों को वक्त रहते सही-सलामत निकाल लिया गया था। लेकिन एबीपी न्यूज के मुताबिक, दूसरे हॉस्पिटल लेकर जाते वक्त छह मरीजों की मौत हो गई है। घटना में ट्रॉमा सेंटर को काफी नुकसान पहुंचा। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तीन दिन के अंदर रिपोर्ट मांगी है। योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ मंडल आयुक्त से कहा कि जो लोग भी इसमें शामिल होंगे उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। हॉस्पिटल में मौजूद लोगों का दावा है कि वहां आग बुझाने वाला कोई भी यंत्र काम नहीं कर रहा था जिसकी वजह से काफी दिक्कत हुई। मरीजों के घरवाले हॉस्पिटल के प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं।
हॉस्पिटल प्रशासन के अनुसार आग उस स्टोर में लगी थी जहां पर दवाईयां रखी जाती हैं। प्रशासन का दावा है कि आग लगने के बाद उन्होंने करीब 150 लोगों को दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट करवाया। वहीं मरीजों के घरवालों का कहना है कि हॉस्पिटल की तरफ से उनको कोई मदद नहीं मिली। एक न्यूज चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक, एक स्ट्रेचर पर तीन-तीन मरीजों को लाना पड़ा था।
आग को बुझाने के लिए दमकल की आठ गाड़ियों और आग बुझाने वाले 40 लोगों को बुलाया गया था। उन लोगों को आग पर काबू पाने में तकरीबन दो घंटे का वक्त लगा। पूरे हॉस्पिटल में धुआं भर गया था जिसकी वजह से सबको सांस लेने में काफी दिक्कत हो रही थी।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'