बिहार में मचे सियासी बवाल के बीच बीजेपी का नीतीश को समर्थन का ऑफर

बिहार में मचे सियासी बवाल के बीच बीजेपी ने सीएम नीतीश कुमार को समर्थन का ऑफर दिया है। नीतीश कुमार मंगलवार को जेडीयू कार्यकारिणी की बैठक करने वाले हैं। उससे पहले बीजेपी के समर्थन के ऑफर से मामले में नया ट्विस्ट आ गया है। गौरतलब है कि आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के खिलाफ बेनामी संपत्ति मामले में केंद्रीय एजेंसियों की ताबड़तोड़ छापेमारी के बाद राज्य का राजनीतिक तापमान गरमा गया है। डेप्युटी सीएम तेजस्वी यादव पर मामला दर्ज होने के बाद विपक्ष उनके इस्तीफे की मांग कर रहा है। 

बिहार बीजेपी के चीफ नित्यानंद राय ने सोमवार को साफ कहा कि अगर राज्य सरकार पर कोई संकट आता है तो बीजेपी बाहर से समर्थन को तैयार है। राय ने साथ ही मांग की कि सीएम नीतीश कुमार डेप्युटी सीएम तेजस्वी को उनके पद से बर्खास्त कर दें। उन्होंने कहा, 'अगर तेजस्वी इस्तीफा नहीं देते हैं तो सीएम उन्हें बर्खास्त कर दें। तेजस्वी के खिलाफ मामला दर्ज हो चुका है। कोई भी कानून बेनामी संपत्ति रखने की इजाजत नहीं देता है।' 

राय ने कहा, 'बिहार का विकास जरूरी है। महागठबंधन में जेडीयू का रहना या नहीं रहना नीतीश पर निर्भर है। अगर नीतीश महागठबंधन से अलग होते हैं और राज्य की सरकार पर कोई संकट आता है तो हम बाहर से समर्थन के लिए तैयार हैं।' उन्होंने कहा, 'अगर केंद्रीय नेतृत्व का आदेश आया तो हम राज्य सरकार को गिरने नहीं देंगे और समर्थन करेंगे।'
लालू पर निशाना साधते हुए राय ने कहा कि जब लालू सीएम बने थे तो उनके पास इतनी संपत्ति नहीं थी। उन्होंने कहा, 'बीजेपी का मानना है कि लालू ने किसानों और पशुपालकों की कमाई को अपने नाम कर लिया है। लालू यादव को बताना चाहिए कि उनके पास हजारों करोड़ की संपत्ति कहां से आई।'

Popular posts from this blog

येदियुरप्पा ने मानी हार, विश्वास मत परीक्षण से पहले ही दिया इस्तीफा

राजद नेता रघुवंश नहीं रहे:लालू के करीबी रघुवंश प्रसाद का 74 की उम्र में दिल्ली एम्स में निधन; 3 दिन पहले पार्टी से इस्तीफा दिया था, पर लालू ने स्वीकार नहीं किया

बाइडन को सत्ता सौंपने के लिए आख़िरकार तैयार हुए डोनाल्ड ट्रंप