काम न आई धवन की बेहतरीन पारी, लंका ने 7 विकेट से हराया

श्रीलंका ने शानदार खेल दिखाते हुए चैंपियंस ट्रोफी के ग्रुप बी मुकाबले में भारत को 7 विकेट से हरा दिया। 322 के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की टीम ने 8 गेंद शेष रहते यह मैच अपने नाम कर लिया। श्रीलंका की ओर से कुसल मैंडिस ने बेहतरीन 89 रन और दनुष्का गुणाथिलाका ने 76 रन की पारी खेली। इन दोनों के आउट होने के बाद कप्तान एंजिलो मैथ्यू ने टीम के लिए 52 रन की अहम पारी खेली। भारत की ओर से केवल भुवनेश्वर कुमार 1 विकेट ले सके और इसके अलावा गुणाथिलाका और मेंडिस के विकेट रनआउट के रूप में भारत को मिले।
श्रीलंका की शुरुआत भले ही खराब रही, लेकिन इसके बाद गुणाथिलाका और मेंडिस की जोड़ी ने दूसरे विकेट के लिए 159 रन की बेहतरीन साझेदारी कर मैच को भारत से दूर कर दिया। इन दोनों ने 23 ओवर तक भारत को विकेट के लिए तरसा दिया। 28वें और 33वें ओवर में दोनों खिलाड़ियों के रन आउट होने के बाद भारत के लिए एक बार मौका जरूर मिला था, लेकिन कुसल परेरा (47*) और मैथ्यू की साझेदारी ने मैच को भारत से बाहर ही कर दिया। मांसपेशियों में खिंचाव के कारण कुसल परेरा (47*) को रिटायर्ट हर्ट होना पड़ा है। 

इससे पहले 322 रन की चुनौती का जवाब देने उतरी श्रीलंका की टीम ने खराब शुरुआत से उबरते हुए गुणाथिलाका और कुसल मेंडिस की शनदार पारी की बदौलत खुद को मजबूत स्थिति में ला दिया है। गुणाथिलाका और कुसल परेरा की जोड़ी ने 23 ओवर तक भारत को विकेट के लिए तरसा दिया। इसके बाद भारत को उसकी बेहतरीन फील्डिंग का रिवार्ड मिला। पहले उमेश यादव के एक बेहतरीन थ्रो पर महेंद्र सिंह धोनी ने गुणाथिलाका (76) को शानदार रन आउट किया। 

इस तरह भारत ने मेंडिस और गुणाथिलाका के बीच हुई 159 रन की साझेदारी को तोड़ा। इसके 5 ओवर बाद ही भुवनेश्वर कुमार ने अपनी ही बॉल पर शानदार फील्डिंग करते हुए मेंडिस (89) को रन आउट कर दोनों सेट बल्लेबाजों को वापस पविलियन भेजा दिया। इन दोनों बल्लेबाजों के बीच हुई शानदार 159 रन की साझेदारी ने भारत को बैकफुट पर धकेल दिया था। हालांकि यह मैच अभी भी बराबरी पर है और इस समय श्रीलंका के कप्तान एंजिलो मैथ्यू और कुसल परेरा क्रीज पर मौजूद हैं।
इससे पहले श्रीलंका की पारी के 5वें ओवर में निरोशान डिकवेल्ला (7) आउट हो गए। इस समय श्रीलंका की पारी का स्कोर सिर्फ 11 रन ही था। उन्हें भुवनेश्वर कुमार ने अपना शिकार बनाया। डिकवेला के बाद कुसाल मेंडिस श्रीलंका की पारी संभालने के लिए क्रीज पर आए। दोनों ने मिलकर पहले श्रीलंका की टीम को दबाव से उबारा और बॉल पर नजरें जमाने के बाद खुलकर अपना खेल खेलना शुरू कर दिया है। 70 के निजी स्कोर पर गुणाथिलाका भाग्यशाली रहे कि लॉन्ग ऑन में हवा में गए उनके शॉट पर रोहित शर्मा कैच नहीं लपक पाए। रोहित ने आगे कूदते हुए प्रयास तो किया, लेकिन गेंद उनके हाथ से लगकर छिटग गई।

इससे पहले ICC चैंपियंस ट्रोफी के ग्रुप बी के मैच में भारत ने श्री लंका के खिलाफ 50 ओवरों में 6 विकेट पर 321 रन बनाए। शिखर (125) और रोहित (78) के बाद एम. एस. धोनी ने 63 रन का अहम योगदान दिया। टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को एक बार फिर रोहित और शिखर की जोड़ी ने एक बार फिर शानदार शुरुआत दी। दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 138 रन की शतकीय साझेदारी निभाई। शिखर धवन ने अपने वनडे करियर का 10वां शतक जमाया। 

लासित मलिंगा ने रोहित शर्मा को आउट कर श्री लंका को पहली सफलता दिलाई। रोहित के आउट होने के बाद श्रीलंका ने भारतीय पारी में सेंध लगाने की कोशिश की। श्रीलंका की टीम ने विराट कोहली (0) और युवराज सिंह (7) सस्ते में आउट कर भारत का स्कोर 179 पर 3 कर दिया। इन दोनों के आउट होने के बाद धोनी अपने भारतीय पारी की जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेते हुए शानदार 63 रन का योगदान दिया। एमएस ने अपनी इस पारी में 52 बॉल का सामना किया, जिसमें 7 चौके और 2 छक्के शामिल रहे। धोनी अंतिम ओवर में तेजी से रन बटोरने के प्रयास में बाउंड्री लाइन के पास लकमल की बॉल पर कैच आउट हुए।

श्रीलंका की ओर से लासित मलिंगा ने 10 ओवर में 70 रन लुटाए और उन्होंने 2 विकेट अपने नाम किए। अंतिम ओवरो में केदार जाधव ने भी शानदार 25 रन का योगदान दिया। 25 रन की इस छोटी सी पारी में जाधव ने सिर्फ 13 बॉल खेलीं, जिसमें 3 चौके और 1 छक्का जमाया। 

इससे पहले भारत की आज तेज शुरुआत के बाद भारतीय टीम को लगातार दो झटके लगे। रोहित शर्मा (78) के आउट होने के बाद कप्तान विराट कोहली बगैर खाता खोले पविलियन लौट गए। नुवान प्रदीप ने कोहली को विकेटकीपर डिकवेल्ला के हाथ कैच आउट कराया। इसके थोड़ी ही देर बाद पाकिस्तान के खिलाफ भारत की जीत के हीरो रहे युवराज सिंह (7) भी आउट हो गए। वह गुणारत्ने का शिकार बने। गुणारत्ने ने युवी को बोल्ड कर दिया।

इससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर भारतीय टीम को शिखर धवन और रोहित शर्मा ने मजबूत शुरुआत दी। दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 138 रन जोड़े। इस जोड़ी में रोहित शर्मा ज्यादा आक्रामक नजर आए। रोहित ने छक्के के साथ अपने वनडे करियर की 31वीं हाफ सेंचुरी पूरी की। इसी के साथ भारत के 100 रन भी पूरे हुए। 

भारत को रोहित के रूप में पहला झटका लगा। वह लसिथ मलिंगा की शॉर्ट गेंद को पुल करने के प्रयास में डीप फाइन लेग पर कैच थमा बैठे। उन्होंने 79 गेंदों पर 78 रन बनाए। उन्होंने छह चौके और तीन छक्के लगाए। कप्तान कोहली ज्यादा कमाल नहीं कर पाए और बिना कोई रन बनाए नुआन प्रदीप की गेंद पर विकेट के पीछे डिकवाला के हाथों कैच आउट हुए। धवन का साथ देने अब क्रीज पर आए हैं युवराज सिंह। 

इससे पहले रविवार को भारत ने अपने पहले मैच में पाकिस्तान को हराया था। वहीं श्री लंका को साउथ अफ्रीका के हाथों हार मिली थी। अगर भारत आज का मैच जीत लेता है, तो सेमीफाइनल में पहुंचने की उसकी संभावनाए प्रबल हो जाएंगी।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'