17 साल बाद टेस्ट क्रिकेट में शामिल हुईं दो नई टीमें, ICC ने अफगानिस्तान और आयरलैंड को दिया टेस्ट क्रिकेट का दर्जा

आईसीसी ने गुरुवार को क्रिकेट की दुनिया में अहम फैसले करते हुए अफगानिस्तान को ‘पूर्ण सदस्य’ बनाने की पुष्टि की, जिससे उन्हें आयरलैंड के साथ क्रमश: 11वें और 12वें देश के रूप में टेस्ट दर्जा दिया। आईसीसी ने दोनों टीमों को टेस्ट का दर्जा देने का फैसला फुल काउंलिस मीटिंग में सर्वसम्मति से यह लिया है।

आईसीसी की मेंबर कमेटी ने इन दो टीमों को पूर्ण टेस्ट टीम का दर्जा दिए जाने की वकालत की थी। आपको बता दें कि अफगानिस्तान ने हाल के दिनों में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और उसके मुख्य लेग स्पिनर राशिद खान ने टी20 फ्रेंचाइजी लीग जैसे आईपीएल में शानदार खेल दिखाया है। हाल में उन्होंने वनडे सीरीज में वेस्टइंडीज को हराकर 1-1 से बराबरी हासिल की।
अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुख्य कार्यकारी शफिक स्टैनिकजई ने आईसीसी बोर्ड सदस्यों को शुक्रिया करते हुए कहा, ‘अफगानिस्तान जैसे देश के लिए यह शानदार उपलब्धि है, पूरा देश इसका जश्न मनायेगा। यह ईद की सबसे अच्छी भेंट है।’’ आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन ने कहा, ‘मैं अफगानिस्तान और आयरलैंड की टीम को पूर्ण सदस्य का दर्जा हासिल करने के लिए बधाई देना चाहूंगा जो उनके मैदान और बाहर के सुधरे हुए प्रदर्शन की बदौलत ही हो सका। लिहाजा यही वजह रही है कि दोनों टीमो को अब टेस्ट के दर्जा दे दिया गया है।
बता दें कि अफगानिस्तान ने टेस्ट दर्जा पाने से पहले 83 वनडे और 61 टी-20 मैच तथा आयरलैंड ने 123 वनडे और 61 टी-20 मैच खेले हैं। टेस्टे क्रिकेट में दोनों देशों के पूरे 17 साल बाद जाकर यह दर्जा दिया गया है।
इससे पहले ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने 1877 में एक साथ टेस्ट दर्जा हासिल किया था और टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत की थी।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'