दिल्ली NCR में अलसुबह आया भूकंप, महसूस हुए तेज झटके तो सहम गए लोग

दिल्ली एनसीआर में 4. 25 मिनट पर तेज भूकंप आया।  हालांकि इसमें अभी तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। भूकंप के झटके इतने नींद न सिर्फ नाइट शिफ्ट में संस्थानों में काम कर रहे लोगो को महसूस हुए बल्कि जो लोग सो रहे थे उन्होंने भी इन झटकों को महसूस किया। बताया जा रहा है कि भूकंप का मुख्य केंद्र हरियाणा का रोहतक था। कई लोगों ने सुबह- सुबह ही फेसबुक पर भूकंप के बारे में शोर मचाना शुरू कर दिया। बहुत से लोगों ने ट्विटर पर भी भूकंप महसूस करने के अपने अनुभव साझा किए हैं। भूंपक के झटके इतने तेज थे कि घरों और ऑफिस के सामान भी हिल गए। भूकंप की तीव्रता Magnitude 4.8  मापी गई है। ये झटके दिल्ली से सटे गुरुग्राम, फरीदाबाद, मुरादाबाद, नोएडा में महसूस किए गए। यूपी के शामली में भी भूपंक के झटके महसूस किए गए।
बता दें कि अप्रैल में उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में दिन में 4 बजकर 2 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रिएक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4 मापी गई थी। इससे पहले भी रुद्रप्रयाग में ही 5.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इसका केंद्र जमीन के 33 किमी अंदर था लेकिन भूकंप के झटके इतनी तेज थे कि वह दिल्ली एनसीआर में भी महसूस किए गए थे। यह झटके 30 सेकेंड तक महसूस किए गए थे। यह झटके मसूरी, गाजियाबाद, दिल्ली, सहारनपुर, पिथोरागढ़, शिमला, और चंडीगढ़ समेत कई जगह महसूस किए गए थे। इस दौरान एक व्यक्ति घायल हो गया था। इसके इसके अलावा कई इमारतों की दीवारों में दरारें आ गई थीं।
जूकि इससे पहले मार्च में अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में आज 5.9 तीव्रता का तेज भूकंप आया। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की इकाई ‘नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी’ के अनुसार, सुबह आठ बज कर करीब 21 मिनट पर निकोबार द्वीपसमूह क्षेत्र में आए भूकंप का केंद्र 10 किमी की गहराई पर था। बहरहाल, यह भूकंप इतना तेज नहीं था कि सुनामी की चेतावनी जारी की जाए। भारत के पास एक समर्पित सुनामी चेतावनी केंद्र है जो भूकंप आने पर राज्यों और समीपवर्ती देशों को सुनामी के संबंध में अलर्ट जारी करता है। भूकंप से जान माल के नुकसान की तत्काल सूचना नहीं है। सुबह पांच बज कर करीब 48 मिनट पर जम्मू कश्मीर के कठुआ में भूकंप आया था जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.6 आंकी गई थी।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'