इंग्लैंड का विजयी आगाज, बांग्लादेश को 8 विकेट से दी मात

जो रूट (नाबाद 133), एलेक्स हेल्स (95) और इयॉन मॉर्गन (नाबाद 75) की शानदार बल्लेबाजी के दम पर मेजबान इंग्लैंड ने आईसीसी चैंपियंस ट्रोफी का आगाज जीत के साथ किया है। इंग्लैंड ने टूर्नमेंट के पहले मैच में गुरुवार को ग्रुप-ए के मुकाबले में बांग्लादेश को आठ विकेट से मात दी। 
केनिंग्टन ओवल मैदान पर खेले गए मैच में बांग्लादेश ने तमीम इकबाल की 128 और मुशफिकुर रहीम की 79 रनों की पारियों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 305 रन बनाए थे, हालांकि इंग्लैंड ने चुनौतीपूर्ण लक्ष्य को 47.2 ओवरों में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। मेजबान टीम को मनमाफिक शुरुआत नहीं मिली।
बांग्लादेश के कप्तान मशरफे मुर्तजा ने सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय को मुश्ताफिजुर रहमान के हाथों तीसरे ओवर में कैच करा टीम को बड़ी सफलता दिलाई। रॉय छह रनों के कुल स्कोर पर आउट हुए। लेकिन इसके बाद हेल्स और रूट ने बांग्लादेश को अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठाने दिया। इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 159 रनों की साझेदारी कर टीम को मजबूती से लक्ष्य की ओर बढ़ाया। सब्बीर रहमान ने हेल्स को शतक से पांच रन दूर रखा। 86 गेंदों में 11 चौके और दो छक्कों की मदद से 95 रनों की पारी खेलने वाले हेल्स 165 के कुल स्कोर पर पविलियन लौटे। 

इसके बाद भी बांग्लादेश मेजबान टीम पर हावी नहीं हो पाई। जो रूट को कप्तान इयोन मोर्गन का साथ मिला और दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 143 रनों की नाबाद साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई। रूट ने अपनी शतकीय पारी में 129 गेंदों का सामना किया और 11 चौके तथा एक छक्का लगाया। मोर्गन ने 61 गेंदों की पारी में आठ चौके और दो छक्के लगाए। 

इससे पहले, टॉस हाकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश ने धीमी, लेकिन सधी शुरुआत की। बांग्लादेश टीम ने 12वें ओवर तक बिना कोई विकेट गंवाए 56 रन बना लिए थे। इसी स्कोर पर बेन स्टोक्स ने सौम्य सरकार (28) को जॉनी बेयरस्टो के हाथों कैच करवाया। इसके बाद, इमरुल कायेस (19) भी सलामी बल्लेबाजी तमीम के साथ दूसरे विकेट के लिए 39 रनों की ही साझेदारी कर सके। लियाम प्लंकेट ने मार्क वुड के हाथों कायेस को कैच आउट कर बांग्लादेश टीम का दूसरा झटका दिया। 

बांग्लादेश की इस धीमी रफ्तार को तीसरे विकेट के लिए साथ देने आए रहीम ने तेजी दी। दोनों ने 166 रनों की शानदार शतकीय साझेदारी कर टीम को 261 के स्कोर तक पहुंचाया। दोनों ने 25.1 ओवरों में 6.59 के औसत से यह रन जोड़े। इस बीच तमीम ने अपने करियर का नौवां शतक जड़ा। 44वें ओवर की तीसरी गेंद पर तमीम बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में विकेट के पीछे खड़े जोस बटलर के हाथों लपके गए। 
तमीम ने 90.14 की स्ट्राइक रेट से 142 गेंदों पर 12 चौके और तीन छक्के लगाए। तमीम और रहीम के बीच एशिया के बाहर यह बांग्लादेश के लिए की गई सबसे बड़ी वनडे साझेदारी है। इसके अलावा सलामी बल्लेबाज के तौर पर तमीम इंग्लैंड के खिलाफ ओवल मैदान पर सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में शीर्ष पर पहुंच गए हैं। उन्होंने इस क्रम में श्री लंका के खिलाड़ी सनथ जयसूर्या को पीछे छोड़ दिया, जिन्होंने 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल मैदान पर 122 रनों की पारी खेली थी। 
तमीम के आउट होने के बाद रहीम भी ज्यादा देर तक मैदान पर नहीं टिक पाए और वह भी 261 के ही स्कोर पर लंबा शॉट मारने के प्रयास में हेल्स के हाथों कैच आउट होकर पविलियन लौटे। उन्होंने अपनी पारी में खेली गई 72 गेंदों पर आठ चौके लगाए। रहीम के बाद आए शाकिब अल हसन 10 रन बनाकर जैक बॉल की गेंद पर स्टोक्स के हाथों लपके गए। 

15 गेंदों में तीन चौके के साथ 24 रन बनाकर सब्बीर रहमान ने टीम को 300 के स्कोर तक पहुंचाया, लेकिन इसी स्कोर पर प्लंकेट ने उन्हें रॉय के हाथों कैच करा पविलियन भेजा। इंग्लैंड के लिए प्लंकेट ने सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं बॉल और स्टोक्स को एक-एक सफलता हासिल हुई। चैंपिंयंस ट्रोफी का अगला मैच शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया और न्यू जीलैंड के बीच होगा।

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'