500वें टेस्ट में भारत की जीत के 5 कारण

भारत ने कानपुर में हुए अपने 500वें टेस्ट में न्यूज़ीलैंड को 197 रनों से हरा दिया है. एक समय ऐसा लग रहा था कि न्यूज़ीलैंड की टीम भारत को अच्छी टक्कर देगी.
लेकिन ऐसा हुआ नहीं और भारत ने आख़िरकार जीत हासिल कर ली.
आइए नज़र डालते हैं भारत की जीत के पाँच कारणों पर.

1. आर अश्विन का ऑलराउंड प्रदर्शन


भारत का 500वाँ टेस्ट मैच भारत के लिए यादगार रहा. अश्विन ने इस मैच में गेंद के साथ-साथ बल्ले का भी दम दिखाया. उन्होंने भारत की पहली पारी में 40 रन बनाए. साथ ही इस टेस्ट मैच में कुल 10 विकेट भी लिए. अश्विन ने पहली पारी में चार और दूसरी पारी में छह विकेट लिए. इसी टेस्ट मैच के दौरान अश्विन सबसे तेज़ी से 200 टेस्ट विकेट लेने वाले भारतीय खिलाड़ी भी बने.

2. चेतेश्वर पुजारा और मुरली विजय की साझेदारी


भारत ने पहली पारी में अच्छी शुरुआत की थी. लेकिन पहला विकेट 42 रन पर गिरने के बाद मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 112 रनों की साझेदारी की. पुजारा ने 62 और मुरली विजय ने 65 रनों की पारी खेली. दूसरी पारी में भी पुजारा और मुरली विजय ने 133 रनों की साझेदारी की थी. विजय ने इस पारी में 76 और पुजारा ने 78 रन बनाए

3. रवींद्र जडेजा का शानदार प्रदर्शन


ये टेस्ट भी रवींद्र जडेजा के लिए यादगार रहा. पहली पारी में जडेजा ने नाबाद 42 रनों की पारी खेली. दूसरी पारी में एक समय जब ऐसा लग रहा था कि न्यूज़ीलैंड की स्थिति बेहतर हो रही है. जडेजा ने आर अश्विन के साथ मिलकर भारत की मैच में वापसी कराई. पहली पारी में तो जडेजा ने सर्वाधिक पाँच विकेट लिए. दूसरी पारी में जडेजा ने एक बार फिर अपने बल्ले का दम दिखाया और रोहित शर्मा के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 100 रन जोड़े. जडेजा इस पारी में 50 रन बनाकर नाबाद रहे.

4. मोहम्मद समी के वो दो विकेट


वैसे तो इस टेस्ट में मोहम्मद समी को दो ही विकेट मिले. लेकिन दूसरी पारी के उनके ये दोनों विकेट अहम समय पर आए. न्यूज़ीलैंड के पाँच विकेट गिर चुके थे. लेकिन एक के एक दो विकेट लेकर समी ने न्यूज़ीलैंड की पारी की कमर तोड़ दी. समी के दो विकेट काफ़ी महत्वपूर्ण समय पर आए.

5. रोहित शर्मा के 68 रन



टेस्ट मैच के लिए जब रोहित शर्मा का चयन हुआ था, तो इसकी काफ़ी आलोचना हुई थी. पहली पारी में रोहित शर्मा 35 रन ही बना पाए. लेकिन ऐसे समय जब भारत को रनों के मामले में अच्छी बढ़त की दरकार थी, रोहित शर्मा ने संभल कर खेला और दूसरी पारी में 68 रन बनाए. उन्होंने रवींद्र जडेजा के साथ छठे विकेट लिए 100 रन जोड़े. जिससे दूसरी पारी में भारत की बढ़त अच्छी हुई और आख़िरकार भारत की जीत हुई.

(आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Popular posts from this blog

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में धमाका, CRPF के 42 जवान मारे गए

CBI बनाम ममता बनर्जी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा राजीव कुमार को सीबीआई गिरफ्तार नहीं कर सकती!

हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद येदियुरप्पा बने 'कर्नाटक के किंग'